संसाधन

प्रकतिक संसाधन:
ग्राम पंचायत में एक तलाब है जो की काफ़ी बड़ा है| इस तलाब से गाँव के लोग कई तरह के काम लेते है जैसे: कपड़े धोना, पशुओं को पानी पिलाना, खेती की सिचाई करना आदि एवं गाँव के बच्चे भी इसी तलाब में नहाते है |

व्यक्तिगत संसाधन:
ग्राम पंचायत के अंदर आने वाले सभी गाँव में हॅंडपंप तथा कुछ गाँव में कुँए भी हैं| एवं पानी की टंकी सरकार द्वारा ब्लॉक में बनवाई गई है|

सांस्कृतिक संसाधन:
ग्राम पंचायत के द्वारा सांस्कृतिक भवन का निर्माण करवाया गया है जिसमें पारंपरिक कार्यक्रम होते है जैसे रामलीला, होली मिलन समारोह, ईद मिलन समारोह एवं अन्य इसी तरह के कार्यक्रम किए जाते है| ग्राम पंचायत में एक दानधार मंडली, दो भजन मंडली भी है|
 
मानव संसाधन:
ग्राम पंचायत में अधिकतर सभी लोगों के पास खेती एवं नौकरी है जिन लोगों के पास खेती नही है वे लोग दूसरों की खेती करते है और कुछ लोग नौकरी, मज़दूरी करके अपना और अपने घर का भारण पोषण करते है कुछ लोग सब्जी, फल, दुकान, आदि के छोटे व्यपार करते है| ग्राम पंचायत में लगभग- 800 मजदूर, 800 किसान, 400 नौकरी पेशा, 300 कृषि मजदूर है|
 
आने जाने के संसाधन:
एक जगह से दूसरी जगह आने-जाने के लिए सरकारी, प्राइवेट बसें, प्राइवेट गाड़ियाँ, ट्रेन, एवं लोगो के पास अपने साधन भी है| यहाँ पर आने-जाने के लिए प्रदेश की सभी जगह से बस, ट्रेन, एवं व्यक्तिगत साधन मिलते है|